WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

Earn Up To 3000 Rupees Per Day इस मशीन को कहीं भी लेकर बैठ जाओ, हर रोज 3000 रुपये तक होगी कमाई

Earn Up To 3000 Rupees Per Day इस मशीन को कहीं भी लेकर बैठ जाओ, हर रोज 3000 रुपये तक होगी कमाई: यदि आप कोई बिजनेस शुरू करना चाहते हैं। तो यह जानकारी आपके लिए काम की है। यदि आप ऐसा बिजनेस शुरू करना चाहते हैं जिसमें कम लागत से आप अधिक मुनाफा कमा सकें। तो आप प्रदूषण जांच केंद्र खोल सकते हैं। इस बिजनेस को शुरू करके आप 30 से 40 हजार रुपए महीने तक का आराम से कमा सकते हैं। इसमें आपके ज्यादा खर्चा भी नहीं आता है। इसके लिए आपके पास मशीन, लाइसेंस और केबिन होना चाहिए। वाहन प्रदूषण जांच केंद्र खोलने संबंधी सभी जानकारी नीचे दी गई है।

Earn Up To 3000 Rupees Per Day

वाहनों के लिए पॉल्यूशन सर्टिफिकेट है जरूरी

आप प्रदूषण जांच केंद्र खोलकर अपना बिजनेस शुरू कर सकते हैं। इस बिजनेस के चलने की गारंटी इस बात से मिल जाती है कि मोटर व्हीकल एक्ट के तहत पॉल्यूशन सर्टिफिकेट बनवाना अनिवार्य कर दिया है। सभी वाहनों को पॉल्यूशन सर्टिफिकेट बनवाना अनिवार्य है। आपकी गाड़ी सस्ती हो या महंगी हो, स्कूटी, बाइक, टैक्सी, कार, ट्रक सभी वाहनों को पॉल्यूशन सर्टिफिकेट बनवाना जरूरी है। ट्रैफिक पुलिस चेकिंग के दौरान पॉल्यूशन सर्टिफिकेट भी मांग की है। वाहन के पास पॉल्यूशन सर्टिफिकेट नहीं होने पर उस पर जुर्माना लगाया जाता है। यानी वाहनों के पास आरसी, लाइसेंस, बीमा के साथ-साथ पॉल्यूशन सर्टिफिकेट होना भी जरूरी है। इसके नहीं होने पर वाहनों पर भारी जुर्माना लगाया जाता है।

2000 से 3000 तक प्रतिदिन कमा सकते हैं

बाइक या स्कूटर, टैक्सी, कार या भारी वाहन सभी के लिए प्रदूषण सर्टिफिकेट बनवाना जरूरी होता है। यानी आप प्रदूषण केंद्र खोलते हैं, तो रोजाना आपकी अच्छी कमाई हो सकती है। आप प्रदूषण जांच केंद्र खोलकर रोजाना 2000 से 3000 रुपये तक कमा सकते हैं। यानी आप महीने का 50 हजार रुपए तक इनकम कर सकते हैं। इसमें मांग और लोकेशन के हिसाब से और इजाफा हो सकता है।

10 हजार के निवेश से शुरू करें काम

इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको ज्यादा खर्चा करने की आवश्यकता नहीं होती है। इसे आप लगभग 10000 रुपए से शुरू कर सकते हैं। इसमें आपको 5000 रुपए सिक्योरिटी मनी और 5000 रुपए लाइसेंस शुल्क के रूप में जमा करवाने होते हैं। यह राशि लोकेशन के हिसाब से अलग-अलग हो सकती है। इसके अलावा आपको वाहन प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के कुछ नियमों और शर्तों का पालन करना होता है। इसके अलावा आपको एक केबिन की जरूरत पड़ती है, जिसे आप किराए पर भी ले सकते हैं। इसके साथ ही आपको वाहन प्रदूषण जांच मशीन की आवश्यकता होती है। इसे आप उस मशीन निर्माता की कंपनी से ही खरीदें ताकि आपको सर्विस करवाने में परेशानी नहीं हो।

पॉल्यूशन कंट्रोल सर्टिफिकेट कितने में बनता है

पॉल्यूशन कंट्रोल सर्टिफिकेट वाहनों के प्रकार और फ्यूल टाइप के अनुसार बनाया जाता है। यह साथ रुपए से 150 रुपए तक में बन जाता है। नई वाहन के लिए पीयूसी सर्टिफिकेट की वैधता 1 साल और पुराने वाहन के लिए 6 महीने की वैधता होती है। प्रदूषण जांच केंद्र पैट्रोल पंप/ ऑटोमोबाइल वर्कशॉप के नजदीक खोला जाता है. प्रदूषण जांच केंद्र में जाचे गए सभी वाहनों की डिटेल्स 1 वर्ष तक कंप्यूटर में सुरक्षित रखनी होती है। वाहनों की जांच के बाद सर्टिफिकेट पर सरकार से प्राप्त स्टिकर लगाकर देना अनिवार्य होता है।

यह बिजनेस कैसे शुरू करें

प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए अपने क्षेत्र के आरटीओ ऑफिस (RTO) से लाइसेंस लेना होता है। इसके साथ ही 10 रुपए का एक एफिडेविट देना होता है। इसके साथ ही लोकल अथॉरिटी से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट लेना होता है। पॉल्यूशन टेस्टिंग सेंटर की हर राज्य में अलग अलग चीज होती है। कुछ राज्यों में इसके लिए अभ्यर्थी ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं। इसके बारे में अभ्यर्थी विस्तृत जानकारी अपने आरटीओ ऑफिस से प्राप्त कर सकते हैं।

WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top