WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

BED Course 2 Year Closed: 2 वर्षीय B.Ed कोर्स हुआ बंद, अब अध्यापक बनने के लिए 4 वर्षीय कोर्स करना होगा

शिक्षक बनने की सोच रहे युवाओं को एक बड़ा झटका लगा है। सरकार की तरफ से 2 वर्षीय स्पेशल बीएड कोर्स को बंद कर दिया है। भारतीय पुनर्वास परिषद (आरसीआई) द्वारा इस संबंध में नोटिस जारी कर दिया है। अब इसकी जगह 4 वर्षीय स्पेशल बीएड कोर्स (इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम) शुरू किया गया है। अब 2024-25 से 4 वर्षीय बीएड इंटीग्रेटेड कोर्स करना होगा।

BED Course 2 Year Closed

पहले स्पेशल B.Ed का कोर्स 2 वर्ष का होता था। लेकिन अब अगले साल से यह कोर्स बंद कर दिया है। इसकी जगह अभ्यर्थियों को 4 वर्षीय इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम के तहत B.Ed करनी होगी। इस कोर्स को आईटीईपी नाम से भी जाना जाता है। अभ्यर्थी इस कोर्स को 12वीं कक्षा के बाद करियर के रूप में चुन सकते हैं। इस कोर्स से विद्यार्थियों को एक वर्ष की बचत होगी। क्योंकि वर्तमान में बीएड योजना के लिए आवश्यक 5 वर्षों के बजाय पाठ्यक्रम को 4 वर्षों में पूरा कर सकेंगे।

BED Course 2 Year Closed

आरसीआई सदस्य सचिव विकास त्रिवेदी की ओर से जारी सर्कुलर में लिखा गया है, एनसीटीई ने एनईपी-2020 के तहत इंटीग्रेटेड टीचर्स एजुकेशन प्रोग्राम (आईटीईपी) में चार वर्षीय बीएड कार्यक्रम का प्रावधान रखा है। इसके मद्देनजर आरसीआई ने भी चार वर्षीय बीएड पाठ्यक्रम को ही संचालित किए जाने का फैसला किया है। आगामी सत्र 2024-25 से आरसीआई की ओर से सिर्फ 4 वर्षीय बीएड (विशेष शिक्षा) पाठ्यक्रम को मान्यता दी जाएगी।

स्पेशल बीएड कोर्स में दिव्यांग बच्चों को पढ़ाने के लिए शिक्षकों को ट्रेनिंग दी जाती है। दिव्यांग बच्चों की विशेष तरह की जरूरतों को ध्यान में रखकर ही इस कोर्स में प्रशिक्षण दिया जाता है। इसमें सुनने, बोलने व अक्षमता, दृष्टि बाधित, मानसिक विकलांगता आदि दिव्यांगों के लिए सिलेबस का संचालन किया जाता है। अब इस कोर्स को 4 वर्षीय इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम (आईटीईपी) कोर्स कर दिया है। यानी अगले साल से 2 वर्षीय स्पेशल B.Ed कोर्स बंद हो गया है। लेकिन जिन्होंने पहले से 2 वर्षीय स्पेशल B.Ed कोर्स कर रखा है, वह मान्य होगा।

भारतीय पुनर्वास परिषद द्वारा इस संबंध में 4 जनवरी 2024 को आधिकारिक नोटिस जारी कर दिया है। अभ्यर्थी सत्र 2024-25 से केवल चार वर्षीय स्पेशल बीएड कोर्स ही कर पाएंगे। आईसीआई की ओर से जारी नोटिस के अनुसार राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के लागू हो जाने के बाद अब 2 वर्ष के स्पेशल बीएड कोर्स पर रोक लगा दी गई है। अब देश में केवल चार सालों के स्पेशल बीएड कोर्स को ही करवाया जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार देश में करीब 988 संस्थान है, जहां यह कोर्स करवाया जाता है। इसमें राजस्थान में 214 इंस्टिट्यूट है। सूत्रों के अनुसार स्पेशल B.Ed के इंटीग्रेटेड कोर्स के लिए एनसीटीई दया पाठ्यक्रम तैयार कर रही है। इस पाठ्यक्रम को आरसीआई लागू करेगी। इस पाठ्यक्रम में नवीन शिक्षण तकनीकों का समावेश किया जाएगा। इस पाठ्यक्रम को स्पेशल छात्रों की आवश्यकता के अनुसार डिजाइन किया जा रहा है। इस कोर्स के लिए अब जल्दी ही ऑनलाइन पोर्टल खुलेगा।

2 वर्षीय स्पेशल B.Ed कोर्स बंद करने का आदेश डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment